Ajnabi Shayari Hindi Jokes

15
  • Posted on 01/02/2018

    कुछ बातों को

    कुछ बातों को करीने से लगाकर,
    वो जाता है अक़्सर मुझे बहलाकर ।

    कीमती हैं मेरे पास यादें तुम्हारी
    इनको रखा है त़ह पे त़ह लगाकर ।

    खोज़ना है किसी अपने को पर
    गया है वो चेहरे पे चेहरा लगाकर ।

    बेगाना तो नहीं पर कैसे कहूं अपना,
    जो गया है मुझे अजनबी बनाकर ।

    -सीमा 'सदा'



  • Username Admin

    See Also :- Papa Teacher Jokes Part 1

  • Posted on 01/02/2018

    एक अजनबी से

    *** Ajnabi Shayari Hindi Jokes ***

    एक अजनबी से बात क्या की कयामत हो गयी हैं,
    सारे शहर को चाहत की खबर हो गयी हैं….
    क्यों ना दोष दूँ दिले नदान को,
    दोस्ती का इरादा था और उनसे मोहब्बत हो गयी हैं..!



  • Posted on 01/02/2018

    काश की मिल जाए

    काश की मिल जाए मुझे मुक़द्दर की कलम
    लिख दू लम्हा लम्हा खुशी एक अजनबी की ज़िन्दगी के लिए



  • Posted on 01/02/2018

    हम ना अजनबी हैं

    *** Ajnabi Shayari Hindi Jokes ***

    हम ना अजनबी हैं ना पराये हैं,
    आप और हम एक रिश्ते के साये है..
    जब जी चाहे महसूस कर ली जियेगा हमे,
    हम तो आपकी मुस्कुराहटों में समाये है.



  • Posted on 01/02/2018

    उस मोड़ से शुरू

    उस मोड़ से शुरू करनी है फिर से जिंदगी,
    जहाँ सारा शहर अपना था और तुम अजनबी…