View Picture Joke

  • हज़ारों ख्वाहिशें एसी कि
    हर ख्वाहिश पे दम निकले
    बहुत निकले मेरे अरमां
    लेकिन फिर भी कम निकले


Leave a Reply



Related

मिट्टी का जिस्म

भरी महफिल मे