Funny Jokes, Chutkule And Shayari in Hindi

3052
  • Posted on 22/11/2016

    घबराई हुई भैंस

    एक भैंस घबराई हुई जंगल मे भागी जा रही थी एक चूहे ने पूछा : क्या हुआ बहन कहाँ भागे जा रही हो? भैंस : जंगल मे पुलिस हाथी पकडने आई हैं...!!! चूहा : पर तुम क्यों भाग रहीं हो तुम तो भेंस हो? भैंस : ये भारत है भाई ! पकडे गये तो 20 साल तो अदालत मे ये सिद्ध करने मे ही लग जायेंगे कि " मैं हाथी नही भैंस हूँ " "यह सुनते ही चूहा भी भागने लगा"..…!!!

    Related:

    Hindi



  • Username Admin

    See Also :- Papa Teacher Jokes Part 1

  • Posted on 22/11/2016

    जन धन योजना

    *** Hindi Jokes ***

    कस्टमर : जन धन में खाता खुलवाना है बैंक मैनेजर : खुलवा लो कस्टमर : क्या ये जीरो बैलेंस में खुलता है बैंक मैनेजर : (मन ही मन में ....... साला पता है फिर भी पूछ रहा है) हाँ जी फ्री में खुलवा लो कस्टमर : इसमें सरकार कितना पैसा डालेगी? बैंक मैनेजर : जी अभी तो कुछ पता नहीं कस्टमर : तो मैं ये खाता क्यों खुलवाऊँ ? बैंक मैनेजर : जी मत खुलवाओ कस्टमर : फिर भी सरकार कुछ तो देगी बैंक मैनेजर : आपको फ्री में एटीएम दे देंगे कस्टमर : जब उसमे पैसा ही नहीं होगा तो एटीएम का क्या करूँगा? बैंक मैनेजर : पैसे डलवाओ भैया तुम्हारा खाता है कस्टमर : मेरे पास पैसा होता तो मैं पहले नहीं खुलवा लेता, तुम खाता खोल रहे हो तो तुम डालो न पैसे बैंक मैनेजर : अरे भाई सरकार खुलवा रही है कस्टमर : तो ये सरकारी बैंक नहीं है ? बैंक मैनेजर : अरे भाई सरकार तुम्हारा बीमा फ्री में कर रही है , पुरे एक लाख का कस्टमर : (खुश होते हुए) अच्छा तो ये एक लाख मुझे कब मिलेंगे? बैंक मैनेजर : (गुस्से में) जब तुम मर जाओगे तब तुम्हारी बीबी को मिलेंगे कस्टमर : (अचम्भे से) तो तुम लोग मुझे मारना चाहते हो? और मेरी बीबी से तुम्हारा क्या मतलब है? बैंक मैनेजर : अरे भाई ये हम नहीं सरकार चाहती है कस्टमर : (बीच में बात काटते हुए) तुम्हारा मतलब सरकार मुझे मारना चाहती है? बैंक मैनेजर : अरे यार मुझे नहीं पता, तुमको खाता खुलवाना है या नहीं? कस्टमर : नहीं पता का क्या मतलब? मुझे पूरी बात बताओ बैंक मैनेजर : अरे अभी तो मुझे भी पूरी बात नहीं पता, मोदी जी नेे कहा कि खाता खोलो तो हम खोल रहे हैं कस्टमर : अरे नहीं पता तो यहां क्यों बैठे हो, (जन धन के पोस्टर को देखते हुए) अच्छा ये 5000 का ओवरड्राफ्ट क्या है? बैंक मैनेजर : मतलब तुम अपने खाता से 5000 निकाल सकते हो कस्टमर : (बीच में बात काटते हुए) ये हुई ना बात, ये लो आधार कार्ड, 2 फोटो और निकालो 5000 बैंक मैनेजर : अरे यार ये तो 6 महीने बाद मिलेंगे कस्टमर : मतलब मेरे 5000 का इस्तेमाल 6 महीने तक तुम लोग करोगे बैंक मैनेजर : भैया ये रुपये ही 6 महीने बाद आएंगे कस्टमर : झूठ मत बोलो, पहले बोला कि कुछ नहीं मिलेगा, फिर कहा एटीएम मिलेगा, फिर बोला बीमा मिलेगा, फिर बोलते हो 5000 रुपये मिलेंगे, फिर कहते हो कि नहीं मिलेंगे, तुम्हे कुछ पता भी है?

    Related:

    Hindi



  • Posted on 22/11/2016

    बिहार बोर्ड

    पास होने से डर नहीं लगता साहेब.. डर तो टॉपर बनने से लगता है ।। -नकलची छात्र ( बिहार बोर्ड ) आज का ज्ञान~ नक़ल सिर्फ इतनी ही करवानी चाहिए की स्टूडेंट पास हो जाये, ना कि टॉप ही कर ले। बिहार अकेली ऐसी जगह है जहाँ "टॉपर" दुबारा एग्जाम देता है.. बाकी जगह "सप्लीमेंट्री" वाले देते है.. बिहार में बहार है ... टॉपरे फरार है ...

    Related:

    Hindi



  • Posted on 22/11/2016

    ब्रिज बनाने का टेंडर

    *** Hindi Jokes ***

    "ब्रिज बनाने का टेंडर निकला.!" . "एक मद्रासी ने 3 करोड़ ,का कोटेशन दिया.!" . "अथॉरिटीज ने पूछा :- कैसे ?" . "मद्रासी ने कहा :- 2 करोड़ का मटेरियल, 50 लाख का लेबर और 50 लाख मेरा मुनाफा.!" . "U.P वाले ने 9 करोड़ का कोटेशन दिया.!" . "अथॉरिटीज ने पूछा :- इतना महँगा कैसे.?" . "U.P वाला बोला :- 3 करोड़ आपके और 3 करोड़ मेरे.!" . "अथॉरिटीज ने पूछा :- और ब्रिज का क्या.?" . "U.P वाला बोला :- बाकी बचे 3 करोड मद्रासी को दूँगा। ब्रिज मद्रासी बनाएगा.!" . "U. P. वाले को को टेंडर मिल गया.!" . ( "उम्मीदों का प्रदेश -उत्तर प्रदेश, उत्तम-प्रदेश.!" ) बन रहा है आज सवंर रहा है कल

    Related:

    Hindi



  • Posted on 22/11/2016

    गुंडे का नाइ

    एक गुंडा शेविंग और हेयर कटिंग कराने के लिये सैलून में गया. नाई से बोला -”अगर मेरी शेविंग ठीक से से बिना कटे छंटे की तो मुहमाँगा दाम दूँगा ! अगर कहीं भी कट गया तो गर्दन उड़ा दूंगा !” नाई ने डर के मारे मना कर दिया. गुंडा शहर के दूसरे नाइयों के पास गया और वही बात कही. लेकिन सभी नाईयो ने डर के मारे मना कर दिया. अंत में वो गुंडा एक गाँव के नाई के पास पहुँचा. वह काफी कम उम्र का लड़का था. उसने कहा – “ठीक है, बैठो मैं बनाता हूँ”. उस लड़के ने काफी बढ़िया तरीके से गुंडे की शेविंग और हेयर कटिंग कर दी. गुंडे ने खुश होकर लड़के को दस हजार रूपये दिए. और पूछा – “तुझे अपनी जान जाने का डर नहीं था क्या ?” लड़के ने कहा – “डर ? डर कैसा...? पहल तो मेरे हाथ में थी…”. गुंडे ने कहा – “‘पहल तुम्हारे हाथ में थी’ .. मैं मतलब नहीँ समझा ?” लड़के ने हँसते हुये कहा –: “भाईसाहब, उस्तरा तो मेरे हाथ में था… अगर आपको खरोंच भी लगती तो आपकी गर्दन तुरंत काट देता !!!” बेचारा गुंडा ! यह जवाब सुनकर पसीने से लथपथ हो गया। Moral : जिन्दगी के हर मोड पर खतरो से खेलना पडता है नही खेलोगे तो कुछ नही कर पाओगे यानि डर के आगे ही जीत है... बेच सको तो बेच के दिखाओ अपने अहंकार (Ego) को OLX पर., एक रुपया भी नहीं मिलेगा !! तभी पता चलेगा कि क्या फालतु चीज पकड रखी थी अब तक...!

    Related:

    Hindi