शायरी इन हिंदी - हिंदी शायरी डाउनलोड - Shayari Quotes - Shayari Sangrah

2816
  • Posted on 24/11/2018

    दिल से शुक्रिया

    दिल से शुक्रिया ऐ मेरे बुरे वक़्त
    अगर तुम न आते तो अपनो-परायो का पता न चलता…



  • Username Admin

    See Also :- Papa Teacher Jokes Part 1

  • Posted on 26/09/2018

    कोई हिन्दू

    *** शायरी इन हिंदी - हिंदी शायरी डाउनलोड - Shayari Quotes - Shayari Sangrah ***

    कोई हिन्दू, कोई मुस्लिम, कोई ईसाई है
    सब ने इंसान न बनने की क़सम खाई है



  • Posted on 29/10/2018

    कितनी मासूम

    कितनी मासूम होती है ये दिल की धड़कनें...
    कोई सुने ना सुने ,ये खामोश नही रहती...



  • Posted on 19/03/2019

    धुआँ धुआँ है

    *** शायरी इन हिंदी - हिंदी शायरी डाउनलोड - Shayari Quotes - Shayari Sangrah ***

    धुआँ धुआँ है फ़ज़ा रौशनी बहुत कम है
    सभी से प्यार करो ज़िंदगी बहुत कम है

    मक़ाम जिस का फ़रिश्तों से भी ज़ियादा था
    हमारी ज़ात में वो आदमी बहुत कम है

    हमारे गाँव में पत्थर भी रोया करते थे
    यहाँ तो फूल में भी ताज़गी बहुत कम है

    जहाँ है प्यास वहाँ सब गिलास ख़ाली हैं
    जहाँ नदी है वहाँ तिश्नगी बहुत कम है

    ये मौसमों का नगर है यहाँ के लोगों में
    हवस ज़ियादा है और आशिक़ी बहुत कम है

    तुम आसमान पे जाना तो चाँद से कहना
    जहाँ पे हम हैं वहाँ चाँदनी बहुत कम है

    -- शक़ील आज़मी



  • Posted on 10/09/2018

    काँटों और चाकू

    काँटों और चाकू का तो नाम ही बदनाम हैं….
    चुभती तो निगाहें भी हैं और काटती तो जुबान भी हैं.....!!