शायरी इन हिंदी - हिंदी शायरी डाउनलोड - Shayari Quotes - Shayari Sangrah

2846
  • Posted on 26/09/2018

    क्या ज़िद्द

    वो भी क्या ज़िद्द थी, जो तेरे- मेरे बीच एक हद थी…
    मुलाकात मुकम्मल ना सही, मुहब्बत बेहद थी



  • Username Admin

    See Also :- Top 7 Ayurvedic Herbs For Liver Detox and Repair

  • Posted on 03/02/2019

    फिसल जायें तो

    *** शायरी इन हिंदी - हिंदी शायरी डाउनलोड - Shayari Quotes - Shayari Sangrah ***

    फिसल जायें तो अब कोई हाथ नही देता
    अच्छे शेरों की भी कोई दाद नही देता

    दिन बड़े ही बुरे होते हैं यार मुफलिसी के
    अंधेरों में अपना साया भी साथ नही देता



  • Posted on 14/09/2018

    वो भी तड़प ना जाये

    वो भी तड़प ना जाये तो इस इश्क़ पे लानत...
    बस मुझसे एक बार निग़ाह मिलाने की देर है.. |



  • Posted on 03/01/2018

    कुसूर

    *** शायरी इन हिंदी - हिंदी शायरी डाउनलोड - Shayari Quotes - Shayari Sangrah ***

    मोहब्बत में दीवाना होना सिर्फ मेरी ही ख़ता नहीं यारों,
    कुछ कुसूर तो उसकी सादगी भरी सूरत का भी था।



  • Posted on 20/09/2018

    तेरी कातिल नज़रों से

    तेरी कातिल नज़रों से जो टकराया होगा,
    मुझे नहीं लगता वो अब तक घर पहुँच पाया होगा..