विदाई पर शायरी इन हिंदी | बेटी की विदाई शायरी | विदाई संदेश | विदाई समारोह की शायरी

11
  • Posted on 28/01/2018

    आपको विदा किया

    आपको विदा किया, लेकिन ये मालूम न था
    आप नया घर बसाओगे, एक घर सुना करके..



  • Username Admin

    See Also :- Papa Teacher Jokes Part 1

  • Posted on 28/01/2018

    करते करते हमसे वफ़ा

    *** विदाई पर शायरी ***

    करते-करते हमसे वफ़ा, अब समा रहा है,
    खट्टी, मीठी यादों के साथ, ये विदा रहा है !!
    - हनीफ़ शिकोहाबादी



  • Posted on 28/01/2018

    नियति के नहीं

    नियति के नहीं
    कुछ फैसले हमारे थे
    तुम्हें जाना था
    मुझे ठहरना था...तुमपर
    - Samridhi



  • Posted on 28/01/2018

    बुरे वक़्त में

    *** विदाई पर शायरी ***

    बुरे वक़्त में भी एक अच्छाई होती है,

    जैसे ही ये आता है….
    फ़ालतू के दोस्त विदा हो जाते है…



  • Posted on 28/01/2018

    ड़ोली चाहे

    ड़ोली चाहे अमीर के घर से उठे चाहे गरीब के,
    चौखट एक बाप की ही सूनी होती है !!