Haryanvi Jokes

26
  • Posted on 22/11/2016

    हरियाणवी चुटकुले

    हज़्ज़ाम: ताऊ, बाल छोटे करने है के...?
    ताऊ: बड़े कर सके है के !!



  • Username Admin

    See Also :- Pati Patni Jokes - Part 1

  • Posted on 22/11/2016

    हरियाणवी चुटकुले

    *** Haryanvi Jokes ***

    ताऊ मास्टर से -" मेरा छोरा पढाई मै कैसा सै ?"
    मास्टर -"चौधरी यू समझ ले,......आर्यभट्ट ने जीरो की खोज इसके खातिर ही करी थी ।"



  • Posted on 22/11/2016

    इब के करे माशटरनी बेचारी?

    हरियाणा मं तीन गाँम सै "करवाण", "मरवाण" अर बीच म "कुंवारी"। मरवाण गांम के स्कूल मं हिन्दी का एक भी टिचर नां अर कुंवारी के स्कूल मं दो हिन्दी की मैडम। एक दिन मरवाण गांम की पंचायत कुंवारी कै स्कूल मं आकै हैडमास्टर तै कहण लागै कै गुरू जी म्हारै स्कूल मं हिन्दी का टिचर ना है थारै स्कूल तै एक टिचर भेजो। हैडमास्टर जी नै एक मैडम नं बुलाके कहया कै मैडम जी आप कुछ दिन "मरवाण" जाओ। मैडम मरवाण जाण तै नाट गी। कुछ दिन पाछे करवाण गांम गी पंचायत आयी अर हैडमास्टर जी तै कहण लागै कै गुरू जी म्हारै स्कूल म हिन्दी का टिचर ना सै अर आपकै स्कूल मं दो दो हिन्दी टिचर सै एक टिचर की व्यवस्था करवावो। हैडमास्टर जी नै फेर मैडम बुलाई, दूसरी मैडम अपसैन्ट थी, वाही मैडम फेर फसगी। गुरू जी बोल्ये, "देखो मैडम "मरवाण" जाण तै तो आप नाटगी पर अब "करवाण" जाणा पड़गा। मैडम छोह मं आगी बोली, "यो ल्यो जी मेरा रैजींगलैशन लैटर मनै या नौकरी नही करणी।" गुरू जी बोल्या, "के बात मैडम?" मैडम बोली, "जी मनै थारा यो रोजगा पंगा कोन्या समझ मं आव मनै नौकरी नहीं करणी।" गुरूजी बोल्या, "देख मैडम "करवाण" तूं ना जांदी, "मरवाण" तूं नहीं जांदी पर "कुंवारी" तनै मैं भी ना छोडूं।



  • Posted on 09/04/2017

    उल्टे जवाब

    *** Haryanvi Jokes ***

    हरियाणवी आदमी जवाब उल्टे नही देता... लोग सवाल उल्टे करते हैं।
    जज: तू तीसरी बार अदालत आया है, तने शर्म कोनी आती? आदमी: तू तो रोज़ आवे है, तने तो डूब के मर जाना चाहिए ।
    ग्राहक: थारी भैंस की एक आंख तो खराब सै, फेर भी तू इसके 25 हज़ार रुपये मांगन लाग्र्या सै?
    आदमी: तन्नै भैंस दूध खात्तर चाहिए या नैन-मटक्का करन खात्तर..?????
    हज़्ज़ाम: ताऊ, बाल छोटे करने है के...?
    ताऊ: बड़े कर सके है के !!



  • Posted on 09/04/2017

    जाट के पूर्वज

    टीचर: तुम्हें पता है हमारे पूर्वज बन्दर थे।
    जाट: थारे होंगे, महारे तो चौधरी थे।?