in

इंतज़ार का मज़ा

इंतज़ार का मज़ा तो तब आता है,

जब किसी ने लौट के ना आने का वादा किया हो ,

फिर भी दिल को विश्वास हो उसके लौट आने का

What do you think?

129 Points
Upvote Downvote

Written by Taureano Ent

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भरोसा ना करना