in

धड़कनें

धड़कनें अहसास कराती हैं जनाब कि जिन्दा हैं हम ,

वरना शक़ होता है कभी- कभी अपने वजूद पर

– Dolly

What do you think?

129 Points
Upvote Downvote

Written by Taureano Ent

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भरोसा ना करना