शायरी इन हिंदी - हिंदी शायरी डाउनलोड - Shayari Quotes - Shayari Sangrah

2704
  • Posted on 06/06/2018

    हम बजाते रहे तालियां

    हम बजाते रहे इन घोटालों को देखकर तालियां
    उधर फिर एक किसान क़र्ज़ में डूब कर मर गया



  • Username Admin

    See Also :- Pati Patni Jokes - Part 1

  • Posted on 17/11/2018

    ये मुसलमान

    *** शायरी इन हिंदी - हिंदी शायरी डाउनलोड - Shayari Quotes - Shayari Sangrah ***

    ये मुसलमान, ये हिन्दू ,ये ईसाई ,यह सिख
    आदमी खो गया ,मज़हब के बियाबानो मे



  • Posted on 24/09/2018

    जिंदगी गुजरी है

    जिंदगी गुजरी है मेरी एक उनके इंतज़ार में...
    फिर भी तरस न आया उन्हें मेरे सब्र पर...
    मुकम्मल मुहब्बत हुई मेरी या ये अदा ही है उनकी...
    बाद मरने के आये है वो मेरी कब्र पर...



  • Posted on 26/02/2018

    तर्क-ए-उल्फत

    *** शायरी इन हिंदी - हिंदी शायरी डाउनलोड - Shayari Quotes - Shayari Sangrah ***

    तर्क-ए-उल्फत से क्या हुआ हासिल...
    तब भी मरती थी अब भी मरती हूं...!!
    - Ruchika Malhotra

  • Posted on 11/10/2018

    सावन के मायने

    झूले, कुश्तियां, तीज, गीत, आईने हुआ करते थे
    सावन के पहले अलग ही मायने हुआ करते थे