अहंकार शायरी - घमंड शायरी - Ahankar Shayari - Ghamand Shayari - Ghamandi Shayari - Guroor Shayari - गुरूर शायरी

26
  • Posted on 11/07/2018

    मैं अन्धेरा हूं

    मैं अन्धेरा हूं तो अफसोस क्यूं करूं..?
    मुझे गुरूर है, रोशनी का वजूद मुझसे है..!!



  • Username Admin

    See Also :- Pati Patni Jokes - Part 1

  • Posted on 17/07/2018

    कहीं का ग़ुस्सा

    *** अहंकार शायरी ***

    कहीं का ग़ुस्सा कहीं की घुटन उतारते हैं...
    ग़ुरूर ये कि हम काग़ज़ पे फ़न उतारते हैं....



  • Posted on 12/08/2018

    केवल अहंकार

    केवल अहंकार ही ऐसी दौड़ है,
    जहाँ जीतने वाला हार जाता है....



  • Posted on 12/08/2018

    अहंकार में आ के

    *** अहंकार शायरी ***

    अहंकार में आ के किसी रिश्ते को तोड़ने से अच्छा है,
    माफ़ी माँग के वही रिश्ता निभाया जाए....



  • Posted on 12/08/2018

    सबसे खूबसूरत शब्द

    दुनिया का सबसे खूबसूरत शब्द है,*वाह...."
    जब आप किसी के लिए ऐसा बोलते हैं,
    तब ना सिर्फ आप अपने अहंकार को तोड़ते है,
    बल्कि एक दिल भी जित लेते हे