जज्बात शायरी - Jazbaat Shayari In 2 Lines - Jazbaat Status In Hindi

22
  • Posted on 09/11/2017

    ना चाहत के अंदाज़ अलग

    ना चाहत के अंदाज़ अलग, ना दिल के जज़्बात अलग
    थी सारी बात लकीरों की, तेरे हाथ अलग, मेरे हाथ अलग.



  • Username Admin

    See Also :- Papa Teacher Jokes Part 3

  • Posted on 27/11/2017
    Username Admin

    *** जज्बात शायरी ***

    चलो ख़ामोशियों की गिरफ़्त में चलते है...
    बातें ज़्यादा हुई तो जज़्बात खुल जायेंगे

  • Posted on 15/12/2017

    घटाओं में

    घटाओं में किसी का चेहरा नज़र आया .
    दिल में आज कोई जज़्बात उभर आया .

    जुल्फों के बीच तेरा चेहरा देख कर लगा .
    शबनम की बूंदों में शबाब निखर आया .



  • Posted on 21/05/2018

    दरिया बन मिलते रहे

    *** जज्बात शायरी ***

    दरिया बन मिलते रहे समंदर के पानी से।
    जज्बात ही खो गयी मचलती रवानी में।।
    - Shanaya



  • Posted on 27/07/2018

    नाक और पगड़ियां

    नाक और पगड़ियां तो ऊंची रह जाती हैं
    बन्ते हव्वा के जज़्बात का मगर जनाज़ा निकल जाता है