तमन्ना शायरी - आरज़ू शायरी - Khwahish Shayari - हसरत शायरी - Hasrat Shayari - Armaan Shayari

33
  • Posted on 27/10/2017
    Username Admin

    ख्वाहिशें कुछ कुछ यूं भी अधूरी रही
    पहले उम्र नहीं थी, अब उम्र नहीं रही

  • Username Admin

    See Also :- Pati Patni Jokes - Part 1

  • Posted on 10/11/2017
    Username Admin

    *** तमन्ना शायरी ***

    हज़ारों ख्वाहिशें एसी कि
    हर ख्वाहिश पे दम निकले
    बहुत निकले मेरे अरमां
    लेकिन फिर भी कम निकले

  • Posted on 14/11/2017
    Username Admin

    मौरम बहुत सर्द है ऐ दिल,
    चलो कुछ ख्वाहिशों को आग लगायें ...

  • Posted on 01/12/2017
    Username Admin

    *** तमन्ना शायरी ***

    मौसम बहुत सर्द है एे दिल,
    चलो कुछ ख्वाहिशों को आग लगायें...

  • Posted on 11/12/2017
    Username Admin

    तुम्हें अपना कहने की तमन्ना थी दिल में
    लबों तक आते आते तुम ग़ैर हो गए