बदनाम शायरी - Badnaam Shayari - Badnaam Shayari In Hindi - Badnaam Shayari 2 Lines

33
  • Posted on 21/11/2017
    Username Admin

    हसरतें खामोश हैं ना बदनाम हो वाफा...
    गज़लों को मेरी याद तुम युं आते तो बहुत हो
    -Yamini

  • Username Admin

    See Also :- Papa Teacher Jokes Part 2 - Sawal Jawab

  • Posted on 11/12/2017
    Username Admin

    *** badnaam shayari ***

    मेरी तारीफ करे या मुझे बदनाम करे,
    जिसने जो बात करनी है सर-ए-आम करे
    - Jaun Eliya

  • Posted on 29/01/2018

    किसने दिया ये

    किसने दिया ये ज़हर की तू ज़िसमे घिर गई है

    किसकी खातिर तू बेबस हर नज़र मैँ गिर गई है
    तुझको ही कोसते हैं हम गुनहेगार तेरे 

    करने को जो बसेरा आये थे दर पे तेरे
    दिल्ली मेरी जान तेरा ये अंजाम करने वाले 
    
जागेंगे कब ये सारे तुझे बदनाम करने वाले
    खुद को ही रोकना हैं य़ारो खुद को ही थामना है

    खतरे की इस घढ़ी का करना जो सामना है
    - Yamini



  • Posted on 15/04/2018

    तेरी बंसी पुकारे

    *** badnaam shayari ***

    श्याम.. तेरी बंसी पुकारे राधा नाम..
    लोग करे मीरा को यूँ ही बदनाम ....



  • Posted on 04/09/2018

    लो इबादत रख लिया

    लो इबादत रख लिया अपने रिश्ते का नाम,
    मोहब्बत को तो लोगों ने बदनाम कर दिया है..!!