Barish Shayari in Hindi - बारिश शायरी - Barish Status in Hindi - Rain Shayari - Rain Status - बारिश का मौसम शायरी - Monsoon Shayari - Shayari On Barish

40
  • Posted on 11/10/2018

    अब के सावन

    अब के सावन में ये शरारत मेरे साथ हुई,
    मेरा घर छोड़ के कुल शहर में बरसात हुई.

    आप मत पूछिए क्या हम पे सफ़र में गुजरी?
    था लुटेरों का जहाँ गाँव वहीं रात हुई.

    ज़िंदगी-भर तो हुई गुफ़्तगू गैरों से मगर,
    आज तक हमसे न हमारी मुलाक़ात हुई.

    हर गलत मोड़ पे टोका है किसी ने मुझको,
    एक आवाज़ जब से तेरी मेरे साथ हुई.

    मैंने सोचा कि मेरे देश की हालत क्या है,
    एक कातिल से तभी मेरी मुलाक़ात हुई.



  • Username Admin

    See Also :- Top 5 Ayurvedic Herbs For Diabetes (Miracle Herbs)

  • Posted on 11/10/2018

    बेहद खूबसूरत

    *** barish shayari ***

    बेहद खूबसूरत एहसासों से गुज़र रहा है मेरा प्यार सावन में.....
    उधर बरसात की झड़ी इधर तेरी यादों की फ़ुहार।



  • Posted on 11/10/2018

    लज़्ज़्त ये

    लज़्ज़्त ये लुत्फ़ ये तफ़रीह ये जुनूँ सावन के
    बचकर बरसात से तुमने सब कुछ गवां दिया



  • Posted on 11/10/2018

    समां हो फागुन का

    *** barish shayari ***

    समां हो फागुन का या बारिश हो सावन की
    हसरतें सुलगती हैं......भीगते महीनों में,,,,🌹



  • Posted on 11/12/2018

    मैंने अपना ग़म

    मैंने अपना ग़म आसमान को सुना दिया...
    तेरे शहर के लोगों ने बारिश का मजा लिया...