Jannat Shayari In Hindi - जन्नत शायरी - Jannat Quotes

17
  • Posted on 26/11/2017
    Username Admin

    जन्नत का हर लम्हा….दीदार किया था

    गोद मे उठाकर जब मॉ ने प्यार किया था

  • Username Admin

    See Also :- Top 5 Ayurvedic Herbs For Diabetes (Miracle Herbs)

  • Posted on 25/01/2018

    तू बेटी है

    *** jannat shayari ***

    तू बेटी है तो रहमत है, तू बहना है तो शफ्कत है,
    तू बीवी है तो चाहत है, तू माँ है तो फिर जन्नत है...



  • Posted on 18/05/2018

    कहते हैं जिस को जन्नत

    कहते हैं जिस को जन्नत वो इक झलक है तेरी
    सब वाइज़ों की बाक़ी रंगीं-बयानियाँ हैं ...
    ~अल्ताफ़ हुसैन हाली



  • Posted on 23/06/2018

    सियासत के फ़रिश्तों

    *** jannat shayari ***

    सियासत के फ़रिश्तों से अगर आज़ाद हो जाए।
    तो ये कश्मीर जन्नत की तरह आबाद हो जाए।।

    है जिनके हाथ में पत्थर, क़िताबें दे के तो देखो।
    सबक़ कुछ अम्न का उनको भी शायद याद हो जाए।।

    गँवारा है नहीं तुमको मेरा दैर -ओ- हरम आना।
    तो फिर तुम मय-कदा आओ के कुछ इरशाद हो जाए।।

    उड़े जब से परिन्दे हैं, नहीं लौटे हैं पेड़ों पर।
    वो लौटें फिर से, कोई रास्ता ईजाद हो जाए।।

    कयादत करने वालों को 'अकेला' ये खबर कर दो।
    तुम्हारी नातवानी से न सब बरबाद हो जाए।।

    - अकेला इलाहाबादी



  • Posted on 13/08/2018

    औकात नहीं

    औकात नहीं शैतानों की
    जन्नत का सफर करें
    मासूमों की लाशाें पर
    इबादत नहीं होती