in

Sawan Shayari – सावन शायरी – सावन पर शायरी | Unclejokes

सिर्फ सपने, ख्वाब, तसव्वुर, ख्याल, सजाते रहोगे

कब तक मतलब सावन का बरसात लगाते रहोगे

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on pinterest

अब के सावन में ये शरारत मेरे साथ हुई,

मेरा घर छोड़ के कुल शहर में बरसात हुई.

आप मत पूछिए क्या हम पे सफ़र में गुजरी?

था लुटेरों का जहाँ गाँव वहीं रात हुई.

ज़िंदगी-भर तो हुई गुफ़्तगू गैरों से मगर,

आज तक हमसे न हमारी मुलाक़ात हुई.

हर गलत मोड़ पे टोका है किसी ने मुझको,

एक आवाज़ जब से तेरी मेरे साथ हुई.

मैंने सोचा कि मेरे देश की हालत क्या है,

एक कातिल से तभी मेरी मुलाक़ात हुई.

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on pinterest

सावन आया पड़ गये झूले हम तो खुशियों से फूले

कब आओगे साजन पुछे हैं सखियां

तेरी राहें देखें हैं अंखिया….

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on pinterest

बेहद खूबसूरत एहसासों से गुज़र रहा है मेरा प्यार सावन में…..

उधर बरसात की झड़ी इधर तेरी यादों की फ़ुहार।

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on pinterest

सावन

तू यूँ ना बरस बेइन्तहा

दिल मे बन्द किसी की

यादों का बाँध टूट सा जाता है..

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on pinterest

What do you think?

299 points
Upvote Downvote

Written by bvbt3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Pyar Ka Izhar Karne Wali Shayari Feature Image

Pyar Ka Izhar Karne Wali Shayari – प्यार का इज़हार कारने वाली शायरी – Shayari On Izhar E Mohabbat | Unclejokes

Paisa Shayari Feature Image

Paisa Shayari In Hindi – पैसा शायरी – Money Shayari | Unclejokes